Independence Day Wishes IN Hindi

0
15
आजादी का जश्न हम मनाएंगे
सबके दिलो में प्यार जगाएंगे
आया है ये वक्त बड़े दिनों बाद
खुशियां के रंग में रंग जाएंगे।।

खून से लिख दी वीरो ने
शौर्य गाथा हिन्दुस्तान मै
अमर रहेगा नाम वीरों का
हिंद क्षैत्र मैदान में।।
हमेशा दिल मै हिंदुस्तान होता है
हर भारतवासी की पहचान होता है
हर वक्त रहती है याद भारत की
दिल मै तिरंगा हाथो मै भारत का मान होता है।
हर साल मानते है उत्सव
आजादी की याद मै
सब रंग जाते है इस दिन
देशभक्ति की याद मै।।
वीरों का मान बना रहे
सबका सम्मान बना रहे
बहा दो लहू आजादी की लिए
ताकि भारत देश कि आन बनी रही।।
खुला आसमान है,
हर तरफ खुशी की उड़ान है
देखो लहरा रहा है तिरंगा
आज खुश पूरा जहान है।।

लिख दिया था जो लहू से
वहीं इतिहास दोहरा देंगे
जो उठा सर दुबारा गद्दारों का
खून की नदिया हर ओर बहा देंगे।।

 अगस्त को मिली थी आजादी
अंग्रेजो की गुलामी से
भारत उन्मुक्त हुआ था
अत्याचारी सरकारों से।।
जन मन गण के साथ तिरंगा फहराएंगे
जय हिंद के नारे लगाएंगे
रखते है, हर पल ख्याल देश का
हम आजादी का जश्न धूमधाम से मनाएंगे।।
देशप्रेम का पर्व है ये
हमारे राष्ट्र का गर्व है ये
स्वतंत्रता दिवस नहीं
आजादी का पर्व है ये।।
मां ने अपना बेटा भेजा रण के मैदान में
सर कटा दिया वीर ने मातृभूमि के सम्मान मै
तब जाकर आई आजादी भारत के खलिहान में।।
सन् सत्तावन में हुई क्रांति
देशभक्ति बलिदान मै
मिली तब जाकर आजादी
भारत को हिंदुस्तान मै।।
आओ नमन करे उन वीरों को
जो मिट गए धरती माता कि आन मै
जिनके कारण आई खुशियां
भारत में घर खलिहान मै।।
हमने जो किया उस किए की कसम
आजादी के उस दीए की कसम
लेंगे बदला हर उस सख्श से
जिसने दिया हिंदुस्तान को जख्म।।
आजादी के मतवाले सीना तान चलते है
जंग के मैदान मै शेर- ए हिंदुस्तान चलते है
भाग जाता है दुश्मन उनकी हुंकार से
ऐसे वीर जवान तिरंगा की आन लिए चलते है।।
हमने जो देखा वो सपना पूरा किया है
आजादी को हमने जिया है
रहते होंगे लोग घरों में
हमने भारत माता को अपना सर दिया है।।

हर तरफ से सैलाब आएगा
देशभक्ति का इन्कलाब आएगा
तू बचकर रहना ए दुश्मन
भारत का हर बच्चा अब जंग मै मैदान मै आएगा।।

हमारे खून वतन के हिस्से आ जाए
मिट जाए देश पर, जवानी काम आ जाए
गर जो हुआ वापस दुश्मन का हमला
भारत का हर एक सिपाही जंग मै काम आ जाए।।

तिरंगे की आन रहने दो
हमारी पहचान रहने दो
मत करो जाति धर्म का भेद
तिरंगे मै सफेद रंग की पहचान रहने दो।।

रहता है वो शरहद पर इफाजात सबकी करता है
चैन से सो सके हम यहां वो अपनी राते काली करता है
नहीं रहता उसके साथ कोई भी वहां
वो देश सेवा के लिए दिन रात एक करता है।।

मैने नहीं सोचा था एक दिन ये मुकाम आएगा
मुझे जैसे बन्दे का खून वतन के काम आएगा
मै मर गया ये सोचकर ए दुनिया वालों
मेरा शहीदों की गिनती मै नाम आएगा।।

हमने तो देख लिया था
वो खूबसूरत मंजर जंग के मैदान का
जब लड़ रही थी शमशीरे
खून उबल रहा था वीर जवान का
तिरंगे के खातिर लड़ रहा था वो
ऐसा वीर था जांबाज हिंदुस्तान का।।

मैने नहीं देखा आज तक वो दिन आया हो
जब हमने 15 अगस्त ना मनाया हो
हर वर्ष मनाते है हम इसको
राष्ट्रगान सबने ना गाया हो।।
मिट जाऊंगा वतन पर मेरा नाम लिख देना
तिरंगे के कफन मै लौटकर आऊ तो
मुझे शहिदे- ए हिंदुस्तान लिख देना।।

मै भी चला जाऊंगा एक दिन सीमा पर
देश कि रक्षा के खातिर
फौजी बन जाऊंगा
दुश्मनों को मिट्टी मै मिलाने की खातिर।।
जय हिन्द
मै सर पर कफन बांध चलता हूं
दिल मै हिंदुस्तान हाथ मै गन लिए चलता हूं
मै फौजी हूं साहब
भारतवर्ष का अभिमान लिए चलता हूं।।
जय हिन्द
भारत से बढ़कर कुछ हो नहीं सकता
जो करे अपमान तिरंगे का वो भारतवासी हो नहीं सकता
रखना सदा ए दोस्तो इसको दिल मै
तिरंगे के बिना हमारा पहचान हो नहीं सकता।।
जय हिन्द

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here